Social Networking क्या है इसका प्रभाव

2

इस लेख में आप जानेंगे, Social Networking क्या है (What is Social Networking in Hindi) आज हम से अधिकतर लोग Social Media का बखूबी इस्तेमाल करते है. इसके पीछे कई कारण है, एक तो ये कि आप अपने friends के touch में रहते है इसके साथ ही आप लोगो तक अपने opinion share कर पाते है.

Social Networking Kya Hai (What is Social Networking in Hindi)

इन Social Networks का उपयोग करके आप अपने ideas और thoughts को लोगों तक share कर सकते है. Sites जैसे – Facebook, Twitter, और LinkedIn लोगों को आपस मे connect करने के लिए एक mechanism प्रदान करती है. अगर आप business करते है या marketing में है, तो Social Networking आपके लिए एक बहुत बड़ी opportunity है. तो आइये समझते है वास्तव में सोशल नेटवर्किंग का मतलब क्या है और आप इसका लाभ कैसे उठा सकते है.

सोशल नेटवर्किंग क्या है – What is Social Networking in Hindi

Social Networking एक “Network of individuals” है जो पारस्परिक संबंधो जैसे दोस्त, सम्बंधी, ग्राहक और सहकर्मी से मिलकर बनता है. उदाहरण के लिए Social Media एक social networking service है जहाँ आप अपनी प्रोफाइल बनाकर लोगो से जुड़ते है और आपस मे communicate और information exchange करते है.

ये “Social Networks” आपको लोगो से जुड़ने और सामाजिक relationship बनाने में काफी help करते है. Facebook, LinkedIn, Twitter और Instagram आज के सबसे popular social sites में से है. ये एक ऐसी Social Networking है, जहाँ आप virtual community बनाते है और online आपस में सूचना का आदान-प्रदान करते है.

सोशल नेटवर्किंग का उपयोग

Social Networking का use हर कोई अपने purpose से करता है एक individual इसका इस्तेमाल अलग उद्देश्य के लिए करेगा वही एक business अपने ग्राहकों तक पहुँचने के लिए इसका उपयोग करेगा. आइये Social Networking के कुछ उपयोगों के बारे में जानते है.

संपर्क में रहने के लिए: Individuals अर्थात आम लोग अपने friends के contact में रहने के लिए इन Social Networking sites का use करते है ताकि वह आपस मे communicat कर पाए और एक दूसरे के द्वारा share की गई image, video और post को देख पाए.

घटनाओं और जानकारी से अपडेट: दुनिया मे हो रहे किसी भी तरह के events या incidents से आप up to date रहते है. आपके network से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति के जीवन मे हो रही बातों का आपको पता चलता रहता है.

मनोरंजन के लिए: आज अधिकतर लोग social media का उपयोग entertainment पाने के लिए करते है. इन platforms में कई ऐसे pages और channels है जिन्हें आप अपने network में add कर सकते है.

ब्रांड का प्रचार: आज लगभग अधिकतर consumer brands और companies इन्ही Social Networks की help से अपने customers को target करते है. Social Media की मदद से कोई भी अपने brand का promotion कर सकता है.

विषय के बारे में अपनी राय देना: किसी चीज या व्यक्ति के बारे में आप अपने opinion लोगो तक share कर सकते है. इसके अलावा किसी product या movie का review भी दिया जाता है. इससे दूसरे लोगो को काफी मदद मिलती है.

नए लोगो से मिलने के लिए: अगर आप नए दोस्त बनाना चाहते है या आपको new people से meetup करना पसन्द है तो ये Social Networking site आपके लिए बेहतर platform है.

इसके अलावा कई ऐसे fields है जो Social Networking का उपयोग अपने benefit के लिए करते है. तो आइए विभिन्न प्रकार की सोशल नेटवर्किंग सेवाओं के बारे में जाने.

Types Of Social Networking Services

सोशल नेटवर्किंग सर्विस (SNS) को आमतौर पर Internet या mobile-based social space के रूप में परिभाषित किया जाता है, जहाँ लोग connect और communicate कर सके. इन services को अपनी विशेषताओं के कारण अलग-अलग categories में रखा जाता है. आइये उन विभिन्न प्रकारों के बारे जानते है.

Profile-based SNS

प्रोफाइल-आधारित सेवाओं को मुख्य रुप से members के profile pages के आसपास organised किया जाता है. इनसे किसी individual member की information जैसे picture और interests के बारे में पता चलता है. Facebook जैसी वेबसाइट इसका एक अच्छा उदाहरण है. अपने विचारों और सामग्री को आप comment या post के माध्यम से share करते है.

Content-based SNS

ये ऐसे Networks होते है , जहाँ आप video और photography content को upload कर share कर सकते है और आपको उसमे बदलाव करने की पूर्णतया छूट होती है. Youtube और Flickr इसके अच्छे उदाहरण है जहाँ आप अपनी खुद की सामग्री लोगो तक पहुंचा सकते है. इसके अलावा इन platforms में दूसरे लोगो द्वारा शेयर की गई सामग्री को भी देखा जा सकता है.

White-label SNS

अधिकांश Social Networking sites अपने users को group building functionality प्रदान करती है. अर्थात यहाँ आपको allow किया जाता है एक mini-communities वाले group बनाने के लिए. Ning जैसे Social Networks पर आप खुद का एक सोशल नेटवर्क तैयार कर सकते है और अपने group में लोगो को invite करते है. ये आपके specific interest और activities को support करता है.

Multi-User Virtual Environments

Sites जैसे Second life और Word of Warcraft आपको एक online virtual environment प्रदान करते है. ये users को एक-दूसरे के avatars (virtual representation) से interact करने की अनुमती देते है. मित्र सूची आमतौर पर निजी होती है और सार्वजिनक रूप से सांझा या प्रदर्शित नही की जाती है.

Social Search

Social search engine एक महत्वपूर्ण web development है जिसने social networking की popularity को utilize किया है. विभिन्न प्रकार के सामाजिक खोज इंजन है, लेकिन Wink और Spokeo कई Social networking sites के सार्वजनिक प्रोफाइल में खोज करके परिणाम उतपन्न करती है.

Popular Social Networking Sites की List

Social Networking Sites Active User/Month
Facebook 2 billion
Youtube 1.9 billion
Whatsapp 1.5 billion
Messenger 1.3 billion
WeChat 1.06 billion
Instagram 1 billion
TikTok 500 million
Tumbler 371 million
Reddit 330 million
Twitter 321 million
Skype 300 million
Pinterest 300 million
Quora 300 million
LinkedIn 260 million
Snapchat 200 million
Telegram 200 million

सोशल नेटवर्किंग साइट्स के फायदे और नुकसान

Social Networking एक ऐसा platform है जिसने दुनिया के बीच communicate को काफी easy कर दिया है. इसके positive side को देखे तो Social networking sites किसी चमत्कार से कम नही है लेकिन आज समय के साथ लोगों पर इसका negative impact भी पड़ा है. तो आईये social networking के prons और cons के बारे में जाने.

सोशल नेटवर्किंग के फायदे – Benefits of Social Networking:

  • Social Networking हमे Worldwide connectivity प्रदान करता है. आप अपने friends या family के लोगो से connect रहते है और अपने thoughts और pictures को उनके साथ share कर पाते. ये इसका सबसे बड़ा लाभ है.
  • दुनियाभर में एक-दूसरे के साथ communication बहुत easy हो गया है. Instant messaging की सुविधा से आप अपने किसी परिचित को तुरंत अपनी बात कह सकते है और उसका immediate reply पा सकते है.
  • Worldwide क्या activities हो रही है social media से इसका पता हमे चलता रहता है. Latest news और events की सारी information का notification हमे अपने smartphone में प्राप्त होता है.
  • इन social networking platforms में आप कई ऐसे groups से connect कर सकते है जो आपके interest से related हो. आपको हजारों ऐसे groups और forums मिल जायेंगे जो focus होते है किसी भी profession और educational pursuit में. यहाँ से आप अपनी professional growth के लिये help ले सकते है.
  • अपने customers से connect करने के लिये companies इन social networking sites पर खुद का page create कर सकती है. ये प्रकिया उन्हें अपने product को promote और sell करने में मदद करती है.
  • अगर आप किसी product या service को purchase करना चाहते है तो इन social networks जैसे Google reviews, Mouthshut, etc. पर जाकर आप public reviews को पढ़ सकते है और किसी सामग्री की quality के बारे में जान सकते है.

सोशल नेटवर्किंग के नुकसान -Disadvantage of Social Networking:

  • आज social networking platform में तरह-तरह की information भरी पड़ी है. एक research के अनुसार इन sites में पाये जाने वाली 60% news information या तो fake होती है या उनमें आधी-अधूरी जानकारी दी गयी होती है.
  • Social Networks का उपयोग इतना अधिक बढ़ गया है, कि लोग खासकर young generation अपना ज्यादातर time इन साइट पर waste कर रहे है. इससे उनकी productivity और mind पर काफी बुरा असर पड़ रहा है.
  • बीते कुछ वर्षों में fraud और identity theft की घटनाएं बहुत अधिक सामने आई है. आपके द्वारा upload किये personal data को गलत तरीके से इस्तेमाल किया जा सकता है. इसीलिये किसी भी तरह की व्यक्तिगत जानकारी को public न करे.
  • Social media में आज के समय negative comment और post इतनी अधिक है कि ये society को बुरी तरह से impact कर रही है. Depression और anxiety के कई कारणों में एक कारण social media का अधिक use है.
  • ये हमे अपने work, study, और task को करते समय सबसे अधिक distract करने वाली चीज है social media.
  • अधिक social networking का उपयोग brain और personality disorder को बढ़ावा देता है. इसके अधिक उपयोग से बच्चे के दिमागी विकास में कमी आती है और वह गलत प्रभावों का शिकार हो सकता है.

Social Networking का Impact

हमारी society में Social Networking का प्रभाव positive और negative दोनों तरीकों से पड़ता है. उप्पर हमने आपको बताया कि इसके कई लाभ है परन्तु हर सिक्के के दो पहलू होते है. आज के modern world में इसका impact अधिक देखने को मिल रहा. हर किसी को आजादी है कि कोई कुछ भी share कर सकता है फिर चाहे वो unverified और false information ही क्यों न हो.

एक तरफ लोग interesting और informative content को share करते है, वही दूसरी तरफ inflammatory content यानी भड़काऊ सामग्री को बढ़ावा देते है और लोगो के बीच hatred को spread यानी फैलाने का काम करते है. ऐसे तथ्यों की वजह से पूरी society पर harmful impact पड़ता है.

हमने पहले भी कहा कि social networking एक चमत्कार की तरह है, इसका आप कई तरह से benefit ले सकते है. इसीलिये किसी भी विषय पर प्रतिक्रिया देने से पहले उसके बारे में जांच ले कि दिए गए तथ्य सही भी है या नही.

Online Safety कितनी महत्वपूर्ण है

आज लगभग हर युवा social media का उपयोग कर रहा है. नए दोस्त बनाना और इन social platforms के माध्यम से अपनी life से सम्बंधित चीजे share करना हर किसी को पसंद होता है. लेकिन आपको ये knowledge होनी चाहिये कि जो information आप share कर रहे है वो आपको किसी तरह की problem में न डाल दे. ये भी important है कि आपको उन online risks के बारे में knowledge होने चाहिए.

Social Networking sites के उपयोग करने पर जिन online risk के प्रति आपको aware रहना है, वे इस प्रकार है:

1) आप scam के शिकार हो सकते है. आपका account hack किया जा सकता है ये आपकी profile का misuse करके scam links को post करते है, जिससे आपके दोस्तों को नुकसान हो सकता है.

2) इन social networks पर किसी भी Third party app को download न करे. ये एप्लीकेशन की शक्ल में Malicious app, spyware, या virus भी हो सकता है, इससे hackers आपके phone का access प्राप्त करने में कामयाब होते है.

3) ये Social Networks अपने users को communicative convenience तो जरूर provide करते है, लेकिन privacy और security का आपको खुद ध्यान रखना चाहिये. किसी भी sensitive information को इन platform में share न करे या फिर उन्हें private रखे.

4) अपनी profile और post की privacy को change करे इनकी visibility को अपने friends तक ही रखे. ये समस्या देखने मे आती है कि आपके data का उपयोग करके fake id बनाई जाती है. जिसका गलत तरह से उपयोग हो सकता है.

5) Unknown friend request को बस ऐसे ही accept न कर ले. ये आपको झांसा दे सकते है और message के जरिये malicious link आपको send करके आपको नुकसान पहुंचा सकते है.

अगर आपके किसी दूसरे online risk के बारे में पता है, तो कृपया उसे नीचे कमेंट करे जिससे हमारे पाठकों को उस बारे में पता चल सके.

Conclusion

तो इस विषय Social Networking क्या है (What is Social Networking in Hindi) में हमने आपको सोशल नेटवर्किंग की जानकारी दी जिसके अंतर्गत हमने इसके कई पहलुवों पर बात की. एक बात हमने जानी की Social Networking का उपयोग हम अपने benefit के लिए कई तरह से कर सकते है. ये हमे लोगो से जुड़ने में भी मदद करता है वही दूसरी तरफ इसके बढ़ते उपयोग से कई नई problems भी आई है. जिनके बारे में हमे पता होना चाहिए.

उम्मीद है, इस पोस्ट में आपको सोशल नेटवर्किंग क्या होता है इसका प्रभाव के बारे में काफी कुछ जानने को मिला होगा. इस पोस्ट से सम्बंधित यदि आपके पास कोई सुझाव या सवाल हो तो उसे नीचे Comment कर जरूर बताये. Social Networking Sites के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए इसे अपने दोस्तों में Share करे.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here