बिटकॉइन क्या है? Explain Bitcoin in Hindi

0

इस लेख पर हम जानेगें Bitcoin क्या है ये कैसे काम करता है? यदि आप इसकी images देखे तो ये एक golden coin की तरह दिखाई देता है. अधिकतर लोग जो cryptocurrency के बारे में नही जानते वो इसे एक गोल्डन कॉइन ही समझते है. परन्तु ऐसा बिल्कुल नही है, Bitcoin किसी traditional currency के विपरीत एक तरह की digital currency है. जिसका कोई भी भौतिक रूप नही होता है. अर्थात ये सिर्फ Internet पर उपयोग होती है.

Bitcoin Kya Hai (What is Bitcoin in Hindi)

जिस तरह एक रुपये की कीमत होती है ठीक वैसे ही 1 Bitcoin की भी अपनी value होती है. कुल मिलाकर ये भी एक तरह की currency ही है. लेकिन आम मुद्रा और Bitcoin में काफी भेद है जिसे हम अभी विस्तार से जानेगें. तो इस पोस्ट में आगे हम बिटकॉइन की जानकारी हिंदी में देंगे. इसके अंतर्गत हम समझेंगे बिटकॉइन क्या चीज है? बिटकॉइन कैसे काम करता है? और बिटकॉइन कैसे खरीदे. चलिये सबसे पहले बिटकॉइन क्या होता है इसे समझें.

Bitcoin क्या है? (What is Bitcoin in Hindi)

Bitcoin, electronic cash की एक form है, जिसे Cryptocurrency कहते है. इसे कंप्यूटर पर electronically create किया जाता है. अर्थात Bitcoin की एक नोट या डॉलर की तरह कोई physical existence नही है बल्कि इन्हें Bitcoin wallet में online store किया जाता है. इसीलिए इसे virtual currency भी कहते है.

आम मुद्रा की तरह इसका संचालन किसी bank या government के द्वारा नही होता है बल्कि ये एक decentralized digital currency है. उदाहरण के लिए जब आप account 1 से account 2 तक transaction करते है तो उस लेन-देन को successful करने के लिये एक intermediates (बैंक या सरकार) की जरूरत होती है.

Bitcoin के संदर्भ में ये नही होता है बल्कि इसमें peer-to-peer technology का use होता है. अर्थात network पर सभी members एक-दूसरे से connected होते है जिससे transaction करते वक्त किसी middleman की जरुरत नही होती है. तो Bitcoin पूरी तरह से open-source है, हर कोई इसका उपयोग कर सकता है.

इसके transactions को cryptography के माध्यम से network nodes द्वारा verified किया जाता है. इसके बाद उन transactions की details को एक Blockchain नामक decentralized ledger system में store किया जाता है. इस पूरी process को Bitcoin Mining के नाम से परिभाषित करते है.

Miners जो इस mining process को करते है उन्हें reward के तौर पर Bitcoin प्राप्त होते है. इसी तरह market में नए Bitcoin आते है. ये एक fixed asset है यानी सिर्फ 21 million Bitcoin ही बनाये जा सकते है और अभी तक इसका 80% हिस्सा mined हो चुका है. Bitcoin को हम दूसरे currencies, product, और services से exchange कर सकते है.

बिटकॉइन किसने और क्यू बनाया?

Bitcoin को 2009 में Satoshi Nakamoto नाम के व्यक्ति द्वारा release किया गया था. हालांकि इस नाम के व्यक्ति का identity verification अभी तक नही हुआ है. ऐसी खबर भी आती है कि ये कोई person न होकर एक group of people भी हो सकता है. परंतु एक question जो आपके मन में जरूर उठता होगा कि आखिर Bitcoin को क्यों बनाया गया?

इस mystery पर से परदा तब उठता है जब आप Santoshi Nakamoto द्वारा publish एक proposal पर नजर डालते है. इसका शिर्षक इस प्रकार है, “Bitcoin: A Peer-to-Peer Electronic Cash System” पोस्ट के अंतर्गत बिटकॉइन की पूरी जानकारी दी गयी है. इसके एक अनुच्छेद में Bitcoin को बनाने के पीछे का purpose मालूम पड़ता है.

उन्होंने लिखा है कि conventional currency अर्थात पारंपरिक मुद्रा के साथ मूल समस्या ये है कि हमे उसके लिये banking system पर depend रहना पड़ता है. उनका ये भी मानना है कि बैंको पर हमारा पैसा पूरी तरह सुरक्षित नही है और वे हमारे साथ स्कीम के नाम पर काफी ठगी करते है. इतिहास उठाकर देखे तो ये बात सच भी है ऐसे कई घटनाएं हुई है.

1 Bitcoin की Value कितनी है?

1 BTC (ये बिटकॉइन का उपनाम है) की value अभी currently ₹6,00,482.87, लगभग छः लाख भारतीय रुपये के बराबर है. हालांकि इसकी value लगातार fluctuate करती है. December 2017 में इसने अभी तक के अपने सबसे highest price –  ₹1,259,942, को छुआ था. हो सकता है, आपका सवाल हो कि Bitcoin की value कौन determine करता है.

Bitcoin की value को influenced करने के पीछे कई factors है. उनमें सबसे प्रमुख है Bitcoin की supply और demand. ये जितनी अधिक होगी इसकी कीमत भी उतनी ही बढ़ेगी. कुछ हद तक mining process में लगने वाली cost पर भी ये निर्भर है. इसके अलावा भी कई कारक है जो 1 BTC की कीमत निर्धारित करते है.

बिटकॉइन में निवेश कैसे करे – How to Invest in Bitcoin

कोई भी जो cryptocurrency में interested है वे Bitcoin में investment शरू कर सकते है. हालांकि ये इतना आसान नही है एक आम व्यक्ति के लिए तो बिल्कुल नही. Bitcoin में निवेश करने का मतलब है इसे purchase करना और जब इसके price high हो तो इसे sell करके उससे profit कमाना. परंतु आप सोच रहे होंगे कि बिटकॉइन की कीमत तो बहुत ज्यादा है.

जरुरी नही कि आप सीधे 1 BTC को खरीदे. आप इसकी सबसे smallest units को भी purchase कर सकते है. जिस तरह one rupee में 100 paise होते है, ठीक वैसे ही 100 million Santoshi मिलकर one BTC बनाते है. तो आप धीरे-धीरे इन छोटी इकाइयों को खरीदकर एक BTC बना सकते है.

Bitcoin में invest शुरू करने के लिए कई ऐसे चीजें है जो एक investor को चाहिए:

1) अपना KYC Verified करवाना होना इसके लिए PAN Card और एक valid address proof जमा करे.

2) Bitcoin Wallet का चयन करें. ये वे software होते है जो आपको Bitcoin store और sell करने में help करते है. Zebpay, UnoCoin, और Coinbase सबसे बेहतरीन Bitcoin wallet है.

3) किसी एक Wallet को चुनने के बाद इनमें Sign up करके अपना account create करना होना ताकि आप इन्हें उपयोग कर पाए.

4) अपने wallet को Bank account, Debit card, या Credit card से connect करे.

5) अंत में आप Bitcoin को purchase करे. इसकी शुरुआत आप बिटकॉइन की छोटी इकाई को खरीदकर भी कर सकते है.

एक बात जो आपको ध्यान रखनी है कि ये एक risky investment है. इसलिए इसके बारे में जितनी हो सके जानकारी ले. यदि आप बड़ा जोखिम नही लेना चाहते तो इसकी small units पर invest करे. ऐसे cryptocurrency exchange का उपयोग करे जो अधिक secure हो.

Bitcoin Mining क्या है?

ये वो process जिसके द्वारा new bitcoins generate होते है. इसे समझिये जब आप bitcoin का transaction करते है, तो उन्हें verified करने का काम Bitcoin miners का होता है. हालांकि mining के लिए कोई एक नही बल्कि कई miners हो सकते है. जो सबसे पहले उस transaction के record को Bitcoins public ledger (Blockchain) में add कर देगा उसे reward के तौर पर BTC दिए जाते है.

Bitcoin Mining कुछ specialized computers द्वारा की जाती है. अपनी computing power का use करके miners उन transactions को verified करने का काम करते है. Mining एक important प्रक्रिया है इससे ना सिर्फ new bitcoin generate होते है, बल्कि Bitcoin network भी secure रहता है.

इस verification process द्वारा ये ensure होता है, की केवल valid transaction ही Blockchain में record किये जाए.

बिटकॉइन माइनिंग कैसे करे?

ये अक्सर सुनने में आता है कि लोग Bitcoin mining के माध्यम से करोड़ो earn कर रहे है. बात सच है परंतु ये प्रक्रिया बिल्कुल भी आसान नही है क्योंकि इसके लिए आपको कई resources की जरूरत पड़ती है जो काफी expensive होते है. यानी एक common individual के लिए ये काम नही है. चलिये फिर भी हम आपको बता देते है, कि Bitcoin mining कैसे कर सकते है.

  • Bitcoin mining को start करने के लिए आपको Bitcoin mining hardware चाहिए होंगे. हालांकि पहले ये काम Computer CPU या high speed video processor card के द्वारा संभव था. पंरतु आज ये संभव नही है.
  • इस प्रक्रिया में Power consumption आपकी सोच से कही ज्यादा होता है. तो यदि आप Bitcoin mining करना चाहते है तो ये प्रक्रिया अधिक electricity consume करती है.
  • उप्पर के स्टेप कर देने के बाद आपको BTC mining के लिए special program download करना होगा. उदाहरण के लिए CGMiner, BitMinter, और BFGMiner सबसे प्रसिद्ध है.
  • अब आपको Bitcoin mining pool को join करना होगा. ये bitcoin miners का group होता है जो एक block solve करके उसके rewards को आपस मे share करने के लिए काम करते है.
  • अंत में आपको BTC wallet set करना होगा जहां आपको एक unique address मिलेगा इससे आप reward में मिले Bitcoin को प्राप्त कर पाएंगे.

क्या Bitcoin legal है?

Yes, फिलहाल India में Bitcoin legal है. April 2018 में RBI (Reserve bank of India) ने cryptocurrency trading पर ban लगा दिया था. यानी कि तब कोई भी भारतीय banks या अन्य financial institutions इन virtual currencies पर किसी भी तरह की सुविधा प्रदान नही करते थे. हालांकि अधिकतर विकसित देशों में cryptocurrency पर तब प्रतिबंध ही था.

इसके बाद Indian crypto community ने RBI के against भारत के supreme court में case लड़ा. लगभग दो साल के बाद सुप्रीम कोर्ट ने फैसला भारतीय क्रिप्टो समुदाय के पक्ष में सुनाया. अब भारत मे Bitcoin पूरी तरह से legal है. हालांकि ये अभी इतना प्रचलित नही है कि इसे हम traditional currency की तरह उपयोग करे.

बिटकॉइन कैसे काम करता है

जैसा हमने सीखा ये एक digital currency है जो सिर्फ online ही exists करती है. इसके साथ ही ये decentralized है यानी इसे कोई भी own नही करता. तो फिर Bitcoin काम कैसे करता है? समझिये जैसे gold एक संपदा है ठीक वैसे ही BTC भी एक digital assets है जिसकी अपनी value होती है. इसे हम Bitcoin wallet में store करते है.

इसी wallet का उपयोग करके हम BTC को buy और sell कर सकते है. प्रत्येक wallet की एक public key और एक private key होती है. Public key वो unique address होता है जिसकी मदद से आप BTC को receive करते है. Private key एक digital signature के रूप में कार्य करता है.

जब भी आप बिटकॉइन भेजते है तो इसी private key के help से computer nodes उस transaction को verify करते है. वैसे ही जैसे बैंक में पैसे जमा करने या भेजने पर आप हस्ताक्षर करते है. यहाँ से miners का काम शुरू होता है. वे प्रत्येक BTC transaction को process और verified करके उन्हें एक block में add करते है. इसे हम public ledger कहते है.

इसके बाद miners उस block को Bitcoin network में publish कर देते है. इससे वो transaction, previous blocks के साथ blockchain में जुड़ जाता है. Mining के बदले उन miners को reward के तौर पर कुछ Bitcoin प्राप्त होते है. जो नए बिटकॉइन मार्केट में आते है वो इसी तरह से आते है.

Bitcoin का Future

वो जो cryptocurrency में investment करते है वे अक्सर इसके future को लेकर worried रहते है. इसलिए क्योंकि ये एक स्थिर assets नही है इसकी value लगातार change होती रहती है. बिटकॉइन भी एक cryptocurrency है, जो advance encryption technique का use करती है जिसे cryptography कहा जाता है.

इसकी value growth देखकर कभी ऐसा लगता है कि आने वाले समय मे digital currencies आज की conventional currencies को replace कर देगी. परंतु कई बार लगता है कि ये ज्यादा समय तक टिक नही पाएगी. तो इस उलझन का जवाब क्या है. यदि economic analytics की सुने तो वे कहते है crypto में जल्द ही बड़ा change आएगा.

वो इसलिये क्योंकि Bitcoin में कई features है जो प्रत्येक व्यक्ति को benefits पहुंचा सकते है. यदि इसके drawbacks पर काम किया जाए और इसे अधिक secure बनाया जाए. जिससे लोगो के लिए इसे use करना easy हो. तो definitely इसका future बेहतर है.

Conclusion

इस लेख में आपने जाना Bitcoin क्या है ये कैसे काम करता है? जिसके अंतर्गत हमने आपको बिटकॉइन की पूरी जानकारी दी. ये पोस्ट पढ़कर आप इसे अच्छे से समझ सकते है इसमे निवेश करना सीख सकते है. यदि आप finance में रुचि रखते है तो आपके लिए ये और भी महत्वपूर्ण है. साथ ही हमे ये नही भूलना चाहिये कि Bitcoin एक Unpredictable और Unstable currency है, यानी ये एक high risk asset है.

तो उम्मीद है, इस पोस्ट बिटकॉइन क्या होता है? (What is Bitcoin in Hindi) से आपको बहुत कुछ सीखने को मिला होगा. यदि इससे सम्बंधित कोई सवाल या सुझाव हो तो कृपया Comment में बताए. अंत मे पोस्ट ज्ञानवर्धक लगी हो तो इसे अपने साथियों के साथ Social Media जैसे Facebook, Twitter, Instagram पर Share जरूर करे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here