क्रेडिट कार्ड की जानकारी हिंदी मे।

यदि आपका किसी bank में account है तो आपने Plastic cards के बारे जरूर सुना होगा. लेकिन आज भी कई लोगों को Debit Card और Credit Card को लेकर confusion रहती है. वो इनके बीच के अंतर को नही समझ पाए है. तो इस पोस्ट में हम इससे सम्बन्धित पूरी जानकारी शेयर करेंगे और जानेगें Credit Card क्या होता है?

Credit Card Kya Hota Hai

Credit Card बाकी सभी कार्ड्स जैसे Debit Card या ATM Card की तरह ही एक plastic money card है और इसका use भी हम online transaction, shopping और online payment करने में करते है. Debit Card आपको bank आसानी से provide कर देता है वही क्रेडिट कार्ड को पाना इतना आसान नही है.

यदि आप एक Credit Card पाना चाहते है तो इसके लिये आपको bank की कुछ Terms & Conditions को follow करना होता है. इस पोस्ट में हम आपको क्रेडिट कार्ड की पूरी जानकारी देंगे साथ ही क्रेडिट कार्ड के फायदे व नुकसान भी बताएंगे. चलिये सबसे पहले जाने क्रेडिट कार्ड क्या है?

Credit Card क्या होता है?

Credit Card एक प्रकार का Plastic Card है, जो लोगों को बिना नकदी के चीजें खरीदने की अनुमति देता है. Credit Card का उपयोग करने के लिए आप bank में money deposit नही करते बल्कि बैंक आपको पैसा loan में देती है. उस पैसे का use आप Online shopping करने, EMI भरने, और payment करने में कर सकते है.

चीजों को खरीदने में spent किया गया amount हर महीने generate होता है. Credit Card के द्वारा money spent करने की एक limit होती है जिसे आपकी income और profession को देखने के बाद bank द्वारा decide किया जाता है. खर्च किये गए amount की payment करने के लिए bank आपको maximum 50 days का समय देता है.

यदि आप इस बीच payment कर देते है तो bank आपसे 3% to 3.5% interest लेता है. परन्तु अगर आप किसी reason के चलते समय पर Credit Card की payment नही कर पाए तो आपको इससे कई अधिक interest rate भी देना पड़ सकता है.

क्रेडिट कार्ड के नियम

कोई भी banks अपने किसी customers को Credit Card देने से पहले उसके सामने कुछ Terms and Conditions रखते है:

  • Bank अपने customers को Credit Card provide करने से पहले उसका profession और income देखते है. इसी बुनियाद पर एक card holder की Credit Card limit तय की जाती है.
  • क्रेडिट कार्ड देने से पहले customer की previous details भी check की जाती है. देखा जाता है, कहि card holder ने पहले किसी bank से loan तो नही लिया. अगर लिया तो क्या उसकी payment का time to time भुकतान हुआ. Bounce payment भी देखी जाती है.
  • अगर आपने कोई चीज EMI पर purchase की है और उसकी payment अभी तक complete नही हुई है. ऐसे में bank आपकी credit card limit को कम कर देगा.
  • क्रेडिट कार्ड पाने के लिये आपका इस bank से relation भी अच्छा होना चाहिए. यानी आपका उस bank में पहले से Saving या regular account बेहतर स्थिति में होना चाहिए.
  • एक Income tax payers के लिए इसे पाना और भी आसान होता है.

ये कुछ नियम है जिन्हें ध्यान में रखकर bank किसी customers को Credit Card provide करती है. हालांकि कई दूसरी बातों का ध्यान भी एक बैंक द्वारा रखा जाता है. हो सके तो अपने बैंक या किसी agent से इस बारे में बात करे.

क्रेडिट कार्ड के फायदे – Benefits of Credit Card in Hindi

अगर आपके पास एक Credit Card है तो ये आपके लिए अच्छी खबर है क्योंकि इसके कुछ अपने benefits है जो आपको किसी दूसरे Plastic card में देखने को नही मिलते. तो चलिए जानते है, क्रेडिट कार्ड के फायदे क्या है.

1. क्रेडिट कार्ड होने का सबसे बड़ा फायदा ये है इसका इस्तेमाल आप account में zero balance होने की स्थिति में भी कर सकते है. क्योंकि इसमें हमे bank द्वारा money credit की जाती है या कहे loan में दी जाती है.

2. Credit Card का use हम online shopping करने में कर सकते है. आज almost सभी e-commerce sites हमे e-payment करने का option देती है.

3. आज सभी Shopping mall’s और general stores पर card swipe machine उपलब्ध होती है. आप वहाँ से Credit Card का उपयोग करके कुछ भी खरीद सकते है.

4. इसके अलावा किसी चीज की EMI भरने के लिये भी इसका उपयोग होता है.

5. इसका उपयोग आप किसी दूसरे व्यक्ति के account में money send और उससे money receive करने के लिए भी कर सकते है.

क्रेडिट कार्ड का नुकसान – Disadvantage of Credit Card in Hindi

Credit Card होने के कई फायदे है पर अगर इसका इस्तेमाल सही तरह से न किया जाए तो ये आपके लिये कई problems भी खड़ी कर सकता है. इससे बचने के लिये आप क्रेडिट कार्ड से होने वाले नुकसानों को पढ़कर उनके प्रति एतिहात बरत सकते है.

1) अधिक खर्च: कई लोग जोश में आकर unlimited चीजों में money spent करने लगते है. इसका नुकसान उन्हें बाद में उठाना पड़ता है.

2) समय पर भुकतान न करना: वैसे तो महीने के अंत मे bill generate होने के बाद लगभग 20 days का समय आपको payment का मिलता है. लेकिन अगर आप चूक गए तो आपसे high interest fees ली जाती है.

3) नियम व शर्ते: क्रेडिट कार्ड लेने से पहले उसकी terms and conditions को अच्छे से समझ ले. क्योंकि बिना पढ़े ही किसी bank से Credit Card लेना आपके लिए नुकसानदेह हो सकता है.

4) अधिक क्रेडिट कार्ड रखना: एक से अधिक कार्ड्स रखना आपके लिये नुक्सानदेह हो सकता है यदि आपकी कमाई अधिक नही है. इसलिये अपनी income और expenses के आधार पर ही एक अधिक कार्ड रखे.

Conclusion

तो ये थे Credit Card के कुछ फायदे और नुकसान उम्मीद है आपको इन्हें समझने में आसानी रही होगी. Credit Card एक बेहतरीन चीज है परन्तु आपको ये बात ध्यान में रखनी चाहिए कि कई मामलों में ये risky भी है. इस पोस्ट के अलावा आप दूसरी पोस्ट को भी पढ़े और क्रेडिट कार्ड के बारे में पूरी जानकारी जरूर लें.

उम्मीद है, इस पोस्ट क्रेडिट कार्ड क्या होता है? से आपको इसके बारे में जानकारी प्राप्त हुई होगी. यदि आप जानना चाहते है क्रेडिट कार्ड कैसे बनाये? तो ये पोस्ट पढ़े. इससे सम्बन्धित अपने सवाल या सुझाव को नीचे Comment में पूछे. अंत मे यदि आप चाहे तो इस पोस्ट को Social Media जैसे Facebook, Twitter और Instagram पर Share कर सकते है.

25 COMMENTS

  1. jis din logo ne premium or interest dena band kar diya na yeh bank wale or insurace wale road per aa jaynge loot mach rakhi hain saloin ne

  2. what is credit card trap that bank play bludy game induce customer and earned high rate interest i am urage to rbi stop such looted to customer and ban credit card in india 40 to 50 % they bludy charges annualy the customer intention paid there bill but they bludy charge hidden charges and customer care officer/executive don’t reply they defended the bank and bank policy that bank right not customer

  3. SIR MERA CREDIT CARD JO PYTM ME JAISE STATE BANK ICICI BANK AISE MANGTE HAI NA VAISE MERA CREDIT ELAHBAD BANK KA HAI TO SIR MATLB WO PYTM ME USE NI HOTA TO MUJE SHOPING KAISE KRU

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here