जावा क्या है? – Learn Java in Hindi

यदि आपका सपना एक अच्छा Programmer और Developer बनने का है तो दुर्भाग्य से, आपके लिये इतनी Programming language के बीच एक को चुनना मुश्किल हो सकता है. तो कौन सी Computer language सबसे बेहतर है जिससे start किया जा सकता है. यह अब तक बनाई गयी सर्वश्रेष्ठ कंप्यूटर भाषाओं में से एक है. इस पोस्ट में हम जानेगें Java क्या है? और जावा लैंग्वेज कैसे सीखें?

Java Kya Hai (What is Java in Hindi)

Java Programming language की सबसे खास बात ये है कि इसको web application से लेकर desktop और mobile apps तक हर किसी को बनाने में use किया जा सकता है. Java को स्पष्ट रूप से Internet के distributed environment में उपयोग के लिये design किया गया था. Oracle के अनुसार दुनियाभर में लगभग 1 billion computers और 3 billion phones में Java run होती है.

ये C और C++ syntax पर based है. ये इसलिये भी popular programming language है. क्योंकि इसमें लिखा code किसी भी other platform में run हो सकता है. आगे पोस्ट में हम जावा प्रोग्रामिंग क्या है (Introduction of Java in Hindi) इस बारे में विस्तार से जानेगें. इसके अलावा Java language के basics को भी cover करेंगे. तो चलिये सबसे पहले जावा क्या होता है इसे अच्छे से समझ ले.

जावा क्या है – What is Java in Hindi?

Java एक General Purpose Programming Language है, जिसे Sun Microsystems द्वारा develop किया गया था. इसका उपयोग Desktop व Mobile application को build करने में किया जाता है. ये पूरी तरह से Object oriented programming के उप्पर based है. C++ और Java एक-दूसरे के काफी similar है, इसके बावजूद जावा में अधिक advance और simple features होते है.

Java programming अपने “write once, run anywhere” (WORA) के उद्देश्य पर काम करती है. अर्थात एक बार लिखे code को reuse करने की capability इसमें होती है. ये platform independent भी है, यानी compiled java code सभी Operating system (OS) में run हो सकता है. इस स्थिति को पाने के लिये इसके program को compile किया जाता है Bytecode में.

एक Java file (जिसमें यूजर द्वारा लिखा गया कोड है) को हम .java extension में save करते है. यदि आप OOP concept के basics को समझ लेते है तो ये सीखने में काफी आसान है. दूसरी programming language के compare में Java अधिक secure भी है. अपनी कई बेहतरीन विशेषताओं के दम पर ही पिछले कई सालों में यह एक popular programming language बनके उभरी है.

Java Programming कहाँ Use होती है?

आज के समय Java एक widely used computer language है. कई सारे ऐसे fields है जहां इसका उपयोग होता है. उदाहरण के लिये एक scientific application से लेकर financial applications तक को बनाने में इसका इस्तेमाल हुआ है. Minecraft जैसे बेहतरीन games को Java में ही program किया गया है. तो आइये देखे कहां-कहां जावा उपयोग होती है.

Web Application

इसका उपयोग Web applications को develop करने में काफी होता है. Servlets, Struts, और JSPs जैसी तकनीकों के माध्यम से Java इन web applications को बनाने के लिये बेहतर support provide करता है. इस programming language के easy और secure होने कारण हम कई important fields जैसे: government, healthcare, insurance, education और defense department से सम्बंधित applications को आसानी से develop कर पाते है.

Desktop Application

हर प्रकार के Desktop application को इसके द्वारा आसानी से develop किया जा सकता है. इनको बनाने के लिए विभिन्न प्रकार के API (Application program interface) जैसे Windowing Toolkit (AWT), Swing और JavaFX का use किया जाता है. Desktop application को बनाने के लिये कई developers द्वारा इसे एक बेहतरीन programming language का दर्जा मिल चुका है.

Mobile Application

Java Micro Edition एक लोकप्रिय cross-platform framework है जिसका use करके उन applications को build किया जाता है जो सभी mobile devices पर run करते है. आज के समय अधिकतर phones में android OS का support होता है. वही Java में इसके लिए Android software development kit और अन्य किट का use होता है. इसकी कारण Mobile app development के लिये इसको अधिकारिक रूप से best programming language की उपाधि प्राप्त है.

Enterprise Application

क्योंकि ये बाकी भाषाओं के मुकाबले अधिक secure और powerful है, इसलिए Enterprise application development में इसे पहली पसंद के रूप में देखा जाता है. Java enterprise edition एक बहुत ही बेहतरीन platform है जो scripting और runtime enterprise software के लिये API और Runtime environment, provide करता है. इसके अलावा ये विभिन्न प्रकार के banking applications के लिये भी backbone साबित हुई. Oracle का ऐसा कहना है कि 97% के लगभग enterprise computers में Java को run किया जा रहा है.

Scientific Application

अधिकतर developers एक scientific application को develop करने के लिये Java language को prefer करते है. इसका मुख्य कारण ये है कि Java अधिक secure, portable और maintainable है. साथ ही ये C और C++ के comparison में बेहतर high-level concurrency tools के साथ मे आता है. कुछ सबसे शक्तिशाली application जैसे MATLAB को इसमें ही program किया गया है. खास कर scientific calculations और mathematical operations के लिये बनाये गए software की coding इसमें ही होती है.

Gaming Application

Java, 2D games को develop करने के लिये better language है. इसमें बहुत सारे frameworks और engines उपलब्ध होते है, जिनका use हम इसके साथ कर सकते है. हालांकि C, C# और C++ को इसके मुकाबले अधिक बेहतर माना जाता है Game development के लिये. यदी आप Minecraft खेलते है तो इसके program को भी Java में ही लिखा गया है. तो Web development के लिये programmers की इसके प्रति एक समान राय नही है.

Embedded Systems

Embedded Systems किसी large system के उस component को कहा जाता है जो सिस्टम में एक dedicated task को perform करता है. ये एक chip से लेकर specialized computers में कोई भी हो सकता है. उदाहरण के लिये Sim card, Blu-ray disk player, utility meters और televisions इस Embedded java technology का use करते है. हालांकि आज इसका उपयोग हर तरह के applications को develop करने में होता है. लेकिन originally इसे embedded devices के लिये ही develop किया गया था.

Big Data Technologies

यदि आप नही जानते Big data क्या है, तो ये huge data को process करने और business को insights देने या कहे provide करने के बारे में है. Big data से जुड़ा एक open source framework (Hadoop) इसमें ही program किया गया है. इसीलिए Big data की processing के लिये Java को suggest किया जाता है.

इसके अलावा भी कई different fields में इसका उपयोग बखूबी होता है. एक object-oriented programming के रूप में ये एक बेहतर लैंग्वेज है. OOP एक उपयोगी कौशल है क्योंकि ये Real world application की complexity को काफी अच्छे से handle कर लेता है. एक programmer के लिये भी class और objects के terms से सोचना easy होता है.

जावा का इतिहास

सन 1991 में Sun Microsystems के engineers का एक group जिसे James Gosling द्वारा lead किया जा रहा था उन्होंने decide किया कि वे consumer devices के लिये एक programming language को develop करेंगें. इसको उन्होंने Green Project का नाम दिया. इस परियोजना का aim एक ऐसे distributed system को build करना था जो consumer electronic devices को एक-दूसरे से communicate करने के लिए allow करे.

हालांकि तब C++ को first choice के रूप में रखा गया. अब क्योंकि इस प्रकिया के लिये CPU flexibility एक बड़ी demand थी. तो उन्होंने C++ में विस्तार करने की सोची. परन्तु वे जल्द समझ गए कि इसके विस्तार के बावजूद ये पर्याप्त नही होगी. C++ तब वाकई में एक complex language थी. ये सब होने के बाद एक नई Programming language “Oak” का जन्म हुआ. इसका नाम James Gosling ने अपने office window से दिखने वाले tree Oak के नाम पर रखा था.

इससे पहले इसका नाम Greentalk रखा गया था और तब इसका file extension .gt था. 1995 में इसके Oak नाम को renamed किया गया और तब इसे Java नाम दिया. क्योंकि ये नाम पहले से ही Oak technology द्वारा trademark किया जा चुका था. ऐसी language develop करने के पीछे का intention एक ऐसी programming language बनाना था जो simple, robust, Portable, platform-independent, secure, Multi-threaded, Object-oriented, interpreted और dynamic हो.

वैसे तो Java को digital devices जैसे set-top boxes और television इत्यादि के लिये develop किया गया था. परन्तु इसकी बेहतरीन विशेषताओं के कारण जल्द ही इसे Internet programming और WWW-based applications के लिये भी use किया जाने लगा. इस भाषा को बेहतर साबित करने के लिये उन्होंने एक web browser Hotjava को develop किया जो mini java applications (Applets) को run करने के capable है.

सन 1995 में जब Sun Microsystems ने प्रारंभिक Java Development Kit (JDK) और Hotjava को release किया. जिसके बाद ये एक popular programming language के रूप में सामने आई. 2009 में जाकर Oracle द्वारा इसे acquired कर लिया गया. अब तक कई Java versions को release किया जा चुका है आइये उनकी history पर एक नजर डाले.

VersionsRelease Date
JDK Beta1995
JDK 1.01996
JDK 1.11997
J2SE 1.21998
J2SE 1.32000
J2SE 1.42002
J2SE 5.02004
JAVA SE 62006
JAVA SE 72011
JAVA SE 82014
JAVA SE 92017
JAVA SE 102018

जावा प्रोग्रामिंग भाषा के घटक

Java के इन components यानी घटकों को एक developers के लिये समझना बेहद जरुरी है. क्योंकि programming के architecture को समझकर ही आप उसमे महारत हासिल कर सकते है. हम जब भी कोई program लिखते है, तो वह human readable language में होता है जिसे source code कहा जाता है. यानी उस code को हम तो समझ सकते है पर कोई भी computing device उसे read नही कर सकती. ये केवल machine code या machine language को ही read कर पाती है.

तो machine हमारे द्वारा लिखे source code को understand कर पाए इसके लिये उसे machine language में convert करने की आवश्यकता होती है. इसके लिये Java में compilation और interpretation की पूरी एक process है. सबसे पहले लिखे गए code को convert किया जाता है Bytecode में ये सब javac compiler के इस्तेमाल से होता है.

उसके बाद इस code को machine readable language में convert करने की process शुरू होती है. जिसमे इन तीन components का important role है:

Java Virtual Machine

JVM वो platform है जो Java program को execute करने के लिये एक runtime environment प्रदान करता है. ये JRE का एक part है. जो bytcode को machine code में convert करता है. JVM, bytcode को machine language में convert करने के लिए पहले उसे load करेगा, verify करेगा और फिर जाके उसे execute करेगा.

Java Runtime Environment

JRE एक software है जो Java class libraries, Java class loader और JVM को नियंत्रित यानी contain करता है. इसे आप software का एक set भी कह सकते है, जो Java applications के development में काम आता है. ये JDK का एक part है. हालांकि इसे आपको separately download करना होगा.

Java Development Kit

JDK एक package है tools का जिसकी help से हम Java based software को develop कर पाते है. अक्सर programmer इन दो तकनीकों JRE और JDK को लेकर confuse हो जाते है. इसे समझिये JDK हमे उन tools को provide करता है जिससे हम program को create कर पाए. जबकि JRE वो tools को provide करता है जिससे program run हो सके. तो JDK बाकी सभी tools को contain करता है जिसमे JRE, loader, compiler, archiver etc. शामिल होते है.

जावा कैसे सीखें (Learn Java in Hindi)

इसमे कोई संदेह नही कि आज के समय ये सबसे प्रसिद्ध लैंग्वेज में से एक है. Industry में Java developers की काफी demand है. सबसे महत्वपूर्ण बात ये कि इसे सीखना easy है क्योंकि इसके syntax आसान english में होते है. तो यदि आप decide कर चुके कि आपको Java सीखनी है तो आप हमारी बताई गयी guidance को follow करके इसकी शुरुवात कर सकते है.

#1 कहाँ से सीखें? (Java Online Resources)

हमने नीचे कुछ resources आपके साथ share किये है जहां से आप free में Java सीख सकते है.

Free Java Tutorials (Links)

https://www.codecademy.com/learn/learn-java
https://www.javaworld.com/blog/java-101/
https://www.sololearn.com/Course/Java/
https://www.learnjavaonline.org/
https://www.tutorialspoint.com/java/
https://www.javatpoint.com/java-tutorial
https://www.w3schools.com/java/
https://www.guru99.com/java-tutorial.html
https://www.coursera.org/
https://www.hindilearn.in/tut/core-java/

Free YouTube Tutorials

Java Programming Tutorial (easytuts4you)
Core Java Programming (Geeky Shows)
MySirg Java Tutorials
Java Tutorials For Beginners (Telusko)
Java Tutorial in Hindi (CodeWith Harry)

#2 Install Basic Tools

  • Java Development Kit को आपने अपने computer में Install करना होगा. प्रक्रिया कठिन लगे तो आप वहाँ से Installations instructions को read कर सकते है. ये एक package है जिसमे include होता है JRE और various useful tools जो हमें Java applications develop करने में help करते है.
  • Java Editors के लिये आप Notepad++ को download कर सकते है. ये Java program लिखने के लिये simple text editor है.
  • Java IDE एक software application है जो programmer को software development के लिये कई facilities provide करता है. इसके लिये आप Eclipse IDE और NetBeans IDE में से एक को download कर सकते है.

#3 Start Learning Java

नीचे दी गयी tips आपको इसे सीखने में काफी मदद करेंगी.

1. Programming language को start करने के लिये सबसे पहले आपको उसके basics को समझना चाहिये. जब तक आप इसके fundamentals को नही समझेंगे आप इसमे आगे नही बढ़ पाएंगे.

2. Coding skills को improve करने के लिये आपको daily समय निकालकर practice करनी होगी. तो जितना आप सीखे उसे अभ्यास भी करते जाए.

3. दूसरे Developers से help लें. आप खुद से हर चीज नही सीख सकते इसलिये किसी ऐसे mentor के touch में रहे जो आपकी problems को solve कर सके.

4. Java Programming से सबंधित blogs पढे. ये आपको इसके बारे में extra knowledge देंगे जो आपकी skill improve करने में काफी help करेगा.

5. Coding में mastering करने के लिये आपको कई weeks, month और years भी लग सकते है. इसके लिये patient बनाये रखे धीरे-धीरे ही सही पर एक दिन आप अपने मुकाम में जरूर पहुंच जाएंगे.

Java Program के Types

Java Program कई types के होते जिनमें मुख्य है.

Stand-alone applications: ये वे program है, जो offline work करते है और इन्हें एक certain task को perform करने के लिये बनाया गया होता है. Computer में run करने के लिये इन्हें किसी भी network connections की आवश्यकता नही होती. इन्हें सीधे interpreter के द्वारा run किया जाता है. ये program, HTML और other languages के साथ embedded नही होते है. आप भी कभी Java में लिखे stand-alone applications जैसे text editors व word processors का उपयोग करते होंगे.

Applet: एक Java program है जिसे HTML के साथ embedded किया जा सकता है. Applets का use एक web site को अधिक dynamic और entertaining बनाने के लिये किया जाता है. इन program को Java-enabled web browser की help से execute करते है. Applet program को HTML page में embedded करने के लिये <applet> अथवा <object> tag का use होता है. आमतौर पर ये web applications के लिये कुछ ऐसे features provide करता है जिन्हें HTML के द्वारा implement नही किया जा सकता.

Servlets: ये एक Java class है जिसका उपयोग servers की capabilities को बढ़ाने या extend करने के लिये किया जाता है. हालांकि Servlets किसी भी type की request को respond कर सकते है, परन्तु आमतौर पर वे web server द्वारा host किये गए applications को extend करने के लिये use किये जाते है. इसके अलावा ये एक web component भी है जिसे dynamic web page बनाने के लिये server में deploy किया जाता है.

Core Java क्या है

असल मे Core Java का विवरण कही भी नही है क्योंकि ये एक term है जिसे Sun Microsystems ने Java Standard Edition को बेहतर describe करने के लिये use किया था. ये सबसे basic version है, क्योंकि इसने ही बाकी versions की foundation को set किया. आसान भाषा में ये Java SE technologies के subset को संदर्भित करता है.

इसमें कई verity की general purpose APIs और special purpose APIs शामिल होती है. क्योंकि ये standard version है तो इसमें आपको language के basic fundamentals देखने को मिलेंगे. इसलिये जब आप Core Java सुने तो इसे अलग न समझे बल्कि ये जावा का सबसे शुरुआती संस्करण था. इसके बाद कई Java versions को release किया गया जिनमें शामिल है:

  • Java Enterprise Edition
  • Java Micro Edition
  • Java Card
  • JavaFX
  • PersonalJava

जावा लैंग्वेज की विशेषताएं (Features of Java in Hindi)

यह आज व्यापक रूप से इस्तेमाल होने वाली programming language है. अपने बेहतरीन features के दम पर ही ये एक popular भाषा बन पाई है. तो आइये इसकी कुछ विशेषताओं के बारे में जाने.

1) पहली विशेषता ये है कि, Java एक simple language है. इसके program को write, compile और debug करना काफी easy है दूसरी भाषाओं की तुलना में.

2) ये object-oriented programming पर based है. इसका मतलब हुआ इसमें हर चीज को एक object के रूप में देखा जाता है.

3) एक और खासियत ये Platform Independent है. यानी इसके program को किसी भी platform में run किया जा सकता है.

4) इसे सबसे secure language के रूप में देखा जाता है. जिससे developers एक virus free system को develop कर पाते है.

5) मजबूत memory management, स्वचालित garbage collection और कई security problems को avoid करने के कारण इसे Robust अर्थात मजबूत भाषा का दर्जा दिया जाता है.

6) इसका Architecture neutral है. यानी किसी भी machine में java program को interpret करना आसान है.

7) ये पूरी तरह से portable है यानी इसके bytecode को किसी भी platform में carried किया जा सकता है.

8) इसमें multi-threading की विशेषता होती है. अर्थात इसके द्वारा आप ऐसे program लिख सकते है जो एक समय मे multi task को perform करने में सक्षम होंगे.

9) यह distributed language है. जिससे हम ऐसे programs बना सकते है जो computer network पर run करे.

10) जावा एक परिपक्व भाषा है, इसलिये ये अधिक स्थिर और अनुमानित है. Java class library हमें cross-platform के development की facility प्रदान करता है.

11) इसके पास large number में active user community और support उपलब्ध है.

12) अपने बेहतरीन tools के कारण ये programmers को integrated development environment प्रदान करता है.

13) इसमें Open source libraries का बेहतरीन collection उबलब्ध है. जिससे इसे कही भी उपयोग किया जा सकता है.

14) एक बेहतरीन विशेषता ये कि Java language बिल्कुल free है यानी आप इसके सभी features का use कर सकते है.

Conclusion

इस पोस्ट का मुख्य विषय था Java क्या है और जावा लैंग्वेज कैसे सीखें? जिसके अंतर्गत हमने आपको इस computer language के basics को समझाने की कोशिश की. एक programmer किसी भी प्रोग्रामिंग भाषा को तभी सीख सकता है जब वह लैंग्वेज की मूल चीजों पर ध्यान दे. यदि आपने पोस्ट को ध्यान से पढ़ा है तो आपके लिये एक प्रोग्रामिंग भाषा का चुनाव भी आसान हो जाएगा.

तो उम्मीद है, इस पोस्ट में आप अच्छे से समझ गए होंगे कि जावा क्या होता है? (What is Java in Hindi). यदि इससे सम्बंधित आपके पास कोई सवाल या सुझाव हो तो कृपया नीचे Comment कर हमें बताये. आप चाहे तो इसे अपने सहपाठियों के साथ Social Media जैसे Facebook, Whatsapp और Twitter पर Share भी कर सकते है.

1 COMMENT

  1. आपने बहुत अच्छा और विस्तृत लेख लिखा है। हर आवश्यक विवरण इस लेख में उपलब्ध है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here