Input Device क्या है? परिभाषा और उदाहरण

इस पोस्ट में आप जानेंगे Input Device क्या है? (What is Input Device in Hindi) उनके नाम और Computer में इनपुट डिवाइस का क्या कार्य है? आसान शब्दों में इनका परिचय दे तो ये वो डिवाइस होती है, जो यूजर को कंप्यूटर में डेटा इनपुट (Data Input) करने की अनुमति देते है। ये डिवाइस Computer Hardware का ही पार्ट होती है।

अक्सर इन्हें Input Peripherals भी कहा जाता है। एक बात जो जानने योग्य है वो ये कि बिना Input Device के यूजर कंप्यूटर को कोई भी निर्देश (Command) नही दे पायेंगे। आगे पोस्ट में आप इनपुट डिवाइस के उदाहरण और उनके उपयोग के बारे में जानेंगे लेकिन उससे पहले Input Device क्या होता है? इसे अच्छे से समझते है।

इनपुट डिवाइस क्या है – What is Input Device in Hindi?

Input Device वो होते है, जो यूजर को Computer में डेटा या कमांड एंटर करने की अनुमति देते है। इन्हें ऐसे भी परिभाषित किया जा सकता है “कोई भी Peripheral Device जो कंप्यूटर को डेटा और कंट्रोल सिंगल प्रदान करते है उन्हें Input Device कहा जाता है“।

Input Device को हम दो श्रेणियों में विभाजित करते है, जिसमे मैन्युअल इनपुट डिवाइस और डायरेक्ट इनपुट डिवाइस शामिल है –

Manual Input Devices: इनमें डेटा को कंप्यूटर में मैन्युअल रूप से एंटर किया जाता है। उदाहरण के लिये, अगर आपको कंप्यूटर में Text, Number या कोई Character टाइप करना है, तो आपको अपनी उंगलियों से Keyboard में उन Keys को दबाना होगा तब जाकर कंप्यूटर में वो शब्द दिखाई देगा। इस श्रेणी में शामिल है Mouse, Joystick, Microphone, Digital Camera, Webcam और Touch Screen इत्यादि।

Direct Input Devices: इन डिवाइस द्वारा डेटा को सीधे कंप्यूटर में इनपुट किया जाता है। अर्थात डायरेक्ट इनपुट डिवाइस से डेटा को कंप्यूटर में एंटर करने के लिये बहुत अधिक बाहरी मदद की आवश्यकता नही होती है। इसके उदाहरण है Barcode Scanner, Optical Mark Reader, Optical Character Reader, Biometric Scanner और Sensor इत्यादि।

इनपुट डिवाइस का क्या कार्य है?

Input Units का मुख्य कार्य Data और Control Signals को कंप्यूटर में इनपुट कराना है। जिसके बाद कंप्यूटर CPU के मदद से उस Data को Process करता है और फिर हमे Output प्रदान करता है।

Input process output diagram

ये भी कह सकते है कि Input Devices कंप्यूटर को दिए जाने वाले Instructions को स्वीकार्य (Accept) करने का काम करते है और आपको कंप्यूटर के साथ Interact करने और उसे Control करने की अनुमति देते है।

उदाहरण के लिये जब भी आप Keyboard में कोई Key Press करते है या Mouse से Click करते है तो ये सब गतिविधि कंप्यूटर के लिये एक Signal की तरह होते है, जो उसे विशेष टास्क जैसे – सॉफ्टवेयर ओपन करना, मैसेज टाइप करना और कई अन्य कार्य करने के आदेश देते है।

13 Examples of Input Device – इनपुट डिवाइस के उदाहरण

कुछ महत्वपूर्ण Input Devices के नाम इस प्रकार है:

  1. Keyboard
  2. Mouse
  3. Trackball
  4. Scanner
  5. Joy Stick
  6. Microphone
  7. Touch Screen
  8. Graphic tablet
  9. Digital Camera
  10. Webcam
  11. Biometric Scanner
  12. OMR Reader
  13. OCR Reader

Keyboard

QWERTY white color keyboard

कीबोर्ड, कंप्यूटर की प्राथमिक इनपुट डिवाइस (Primary Input Device) है। आमतौर पर ये प्लास्टिक के बटनों से बना होता है जिसे ‘Keys’ कहते है। अधिकांश कीबोर्ड में 80 से लेकर 110 Keys तक होती है। Keyboard में Keys कई सेक्शन में व्यवस्थित होती है जिनमें क्रमशः Typing Keys, Numeric Keys, Functions Keys, Control Keys और Navigation Keys शामिल होती है।

Keyboard का उपयोग कर यूजर डॉक्यूमेंट लिख सकते है, कीस्ट्रोक शॉर्टकट का उपयोग कर सकते है और कई तरह के कमांड कंप्यूटर को दे सकते है। Keyboard कंप्यूटर से USB या Bluetooth के माध्यम से कनेक्ट होता है और अधिकांश कीबोर्ड QWERTY Layout का उपयोग करते है। इस कीबोर्ड के पहले छः अक्षर इसी के नाम पर होते है।

यदि आप Keyboard के बारे में अधिक जानना चाहते है, तो उसके लिये आप दिये गए पोस्ट लिंक पर क्लिक कर सकते है जिसमें आपको कंप्यूटर कीबोर्ड के विभिन्न प्रकारों के बारे में पता लगेगा साथ ही आप Keyboard Keys को बेहतर उपयोग करना सीख जायेंगे – कीबोर्ड क्या है इसका उपयोग कैसे करे?

Mouse

Optical mouse

माउस को Pointing Device कहा जाता है जो कंप्यूटर की महत्वपूर्ण ‘Input Unit’ में से एक है। इसके उपयोग से आप कंप्यूटर की मॉनिटर स्क्रीन पर Cursor या Pointer की मूवमेंट को कंट्रोल कर सकते है। उदाहरण के लिये जैसे ही आप Mouse को मूव करते है तो स्क्रीन पर दिख रहा Pointer भी उसी डायरेक्शन में मूव करता है।

Mouse का मुख्य कार्य ऑब्जेक्ट पर Point करना, Click करना और उन्हें स्क्रीन पर इधर से उधर Drag करना होता है। इसके लिए Mouse में Two buttons (Left & Right) और इन दोनों के बीच मे एक Scrolling Wheel मौजूद होती है। कंप्यूटर से कनेक्ट करने के आधार पर माउस दो भागों में बांटा जाता है, जिनमे Wired और Wireless Mouse शामिल है। कंप्यूटर माउस के सभी पार्ट्स और उनके कार्यो को और बेहतर तरीके से समझने के लिए आप ये पोस्ट पढ़ सकते है – कंप्यूटर माउस क्या है और इसके कार्य?

Trackball

Logitech wireless trackball

Trackball, माउस के समान एक पॉइंटिंग डिवाइस है परन्तु इसके टॉप पर एक Ball होती है जिसे उंगलियों की मदद से घुमाकर Pointer की मूवमेंट को कंट्रोल किया जाता है। अक्सर इनका उपयोग माउस के विकल्प के तौर पर किया जाता है।

Trackball का उपयोग करना बेहद आरामदायक होता है, क्योंकि Pointer को कंट्रोल करने के लिये इसे माउस की तरह इधर-उधर मूव नही करना पड़ता। इसके अलावा इसे उपयोग करने के लिये समतल सतह का होना जरूरी नही है।

Scanner

Black color Barcode Scanner

स्कैनर एक Input Device है, जो एक Image या text document को कैप्चर करके उसे Digital file में कन्वर्ट कर देता है। ये बिल्कुल एक Photocopy Machine की तरह कार्य करता है। डॉक्यूमेंट के इस इलेक्ट्रॉनिक वर्शन को आप कंप्यूटर में ओपन और एडिट करने के साथ ही उसे प्रिंट भी कर सकते है।

Image को Digital file में कन्वर्ट करने के लिये Scanner द्वारा Optical character recognition तकनीक का यूज किया जाता है। Scanner कई प्रकार के होते है जिसमे से कुछ सामान्य प्रकार निम्नलिखित है।

  • Flatbed Scanners: ये एक Photocopier Machine के समान होता है, जिसमे इमेज को स्कैनर के flat surface पर रखकर Scan किया जाता है
  • Handheld Scanner: इससे स्कैनिंग करने के लिये इसे हाथ से पड़कर इमेज के उप्पर ले जाया जाता है। Barcode Scanner इसका अच्छा उदाहरण है।
  • Sheet-fed Scanner: यह इमेज को रोलर्स के माध्यम से फीड करता है। जैसे ही पेपर रोलर से पास होता है, Scanner इमेज को रीड करता है और एक समतल शीट में प्रिंट कर देता है।

Joy Stick

Joystick

माउस की तरह Joystick का कार्य भी कंप्यूटर स्क्रीन पर Cursor की मूवमेंट को कन्ट्रोल करना है। इसका मुख्य उपयोग Computer Video Games जैसे – Flight simulator इत्यादि खेलने के लिये किया जाता है। इसमें एक Stick लगी होती है, जिसे हाथ से पढ़कर आप जिस डायरेक्शन में मूव करेंगे Cursor उसी डायरेक्शन में मूव करने लगेगा। Joystick में कन्ट्रोल के लिये कई Buttons भी दिए जाते है, जिन्हें Triggers कहते है।

Microphone

Microphone

माइक्रोफोन एक महत्वपूर्ण Input Device है, जिसके उपयोग से Sound को कंप्यूटर में Input किया जाता है। उदाहरण के लिये जब आप Voice Recorder का उपयोग करते है, तो Laptop का Microphone उस Sound को डिटेक्ट करता है और एक इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल लैपटॉप में ट्रांसमिट किया जाता है।

जिसके बाद Analogue-to-digital Converter (ADC) उस Analog data को Digital data में कन्वर्ट कर देता है ताकि उस रिकॉर्डिंग को लैपटॉप में स्टोर किया जा सके। Microphones का उपयोग कई कामों के लिये किया जाता है जैसे – Voice call, Voice over, Video conferencing और Speech recognition इत्यादि।

Touch Screen

touchscreen ipad

टचस्क्रीन एक Electronic Visual Display है, जो यूजर्स को अपनी उंगलियों या Stylus के उपयोग से कंप्यूटर के साथ इंटरेक्ट करने की अनुमति देता है। आमतौर पर Smartphones, Tablets और ATM Machines में आपको टच स्क्रीन दिखाई देती है। जो डिवाइस Touchscreen का उपयोग करती है, उनमें आपको Instructions Input करने के लिये Keyboard या Mouse की जरुरत नही होती है, बल्कि Input को उंगलियों की मदद से फीड किया जाता है।

Graphic Tablet

Graphic tablet

Graphic Tablet (Digitizer या Drawing tablet के नाम से भी जाना जाता है) एक प्रकार की Input Device है, जिनका उपयोग हाथ से बनाये गए Sketches को Digital images में कन्वर्ट करने के लिये किया जाता है। इनका डिज़ाइन टैबलेट के समान होता है।

इसकी स्क्रीन पर Stylus (एक प्रकार की Pointing Device) की मदद से Sketches को draw किया जाता है। Graphic tablet का उपयोग वे लोग करते है, जो Artwork के क्षेत्र में हो या Drawing में रुचि रखते हो।

Digital Camera

digital camera

डिजिटल कैमरा एक Input Device है, जो Pictures को डिजिटल रूप में कैप्चर करता है और उन्हें अपने भीतर मौजूद मेमोरी में स्टोर करता है। जिसके बाद इसे USB कैबल के माध्यम से कंप्यूटर से कनेक्ट करके इसमे मौजूद पिक्चर या वीडियो को कंप्यूटर में ट्रांसफर किया जा सकता है।

एक Traditional film camera के मुकाबले Digital camera कई अधिक पिक्चर कैप्चर कर सकता है। इसके द्वारा CCD sensor (Charged Coupled Device) का उपयोग किया जाता है पिक्चर या वीडियो को रिकॉर्ड करने के लिये।

Webcam

Webcam

वो कैमरा जो कंप्यूटर से सीधे कनेक्टेड होता है, उसे Webcam या ‘Web Camera’ कहा जाता है। उदाहरण के लिये कई लैपटॉप और कंप्यूटर मॉनिटर में इन-बिल्ट वेबकैम आते है जो अक्सर स्क्रीन के सेंटर में स्थित होते है। इसके अलावा कई Security cameras भी इसके अच्छे उदाहरण है।

हालांकि ये डिजिटल कैमरा के समान ही इमेज और वीडियो को कैप्चर करते है। लेकिन इनके पास खुद की मेमोरी नही होती बल्कि पिक्चर को सीधे कंप्यूटर में सेन्ड किया जाता है, जहां उसे स्टोर, ओपन और एडिट किया जा सकता है। Webcams का उपयोग मुख्य रूप से Video-conferencing meeting आयोजित करने और Online Video Calling करने के लिये किया जाता है।

Biometric Devices

Fingerprint scanner

बॉयोमेट्रिक डिवाइस ऐसी डिवाइस है, जो किसी व्यक्ति की पहचान करने के लिये उसके Biometric data का उपयोग करती है। उदाहरण के लिये Face scanner, Fingerprint scanner, Voice scanner और Retinal scanner इत्यादि ये सभी बॉयोमेट्रिक डिवाइस है।

OMR Reader

OMR sheet

Optical Mark Recognition (OMR) एक विशेष प्रकार की Scanner Machine है, जिसका कार्य एक शीट पर पेंसिल या पेन से बनाये गए Mark की पहचान करना होता है। इनका उपयोग मुख्य रूप से Multiple Choice Questions वाली परीक्षाओं की उत्तर-पुस्तिका को जाँचने के लिये किया जाता है।

OCR Reader

Optical Character Recognition (OCR) एक लोकप्रिय Input Device है, जिसका कार्य पेपर या डॉक्यूमेंट में लिखे या प्रिन्टेड टेक्स्ट को स्कैन करके उनकी पहचान करना है। OCR Reader, डॉक्यूमेंट या इमेज में मौजूद टेक्स्ट को पहचान कर उन्हें मशीन पठनीय कोड (Machine Readable Code) में कन्वर्ट करता है जिसे फिर सिस्टम की मेमोरी में स्टोर किया जाता है। इनका उपयोग ऑफिस या लाइब्रेरी में डॉक्यूमेंट या बुक्स की Digital File बनाने के लिये किया जाता है।

संक्षेप में

तो इस पोस्ट Input Device क्या है? (What is Input Device in Hindi) में आपने कंप्यूटर की विभिन्न इनपुट डिवाइस के बारे में जाना। उम्मीद है, पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको इस विषय के बारे में अच्छी जानकारी हो गयी होगी। अगर आप एक स्टूडेंट है, या कंप्यूटर के क्षेत्र में रुचि रखते है, तो कंप्यूटर फंडामेंटल्स से सम्बंधित पोस्ट के लिंक नीचे दिए गए है। जिन पर क्लिक करके आप कंप्यूटर के बारे में और जानकारी प्राप्त कर सकते है।

अगला टॉपिक चुने



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here